March 4, 2021

NEWS TEL

NEWS

पिठोरिया में प्रतिमा विसर्जन के दौरान एक की संदेहास्पद मौत, परिजनों ने किया रोड जाम

1 min read

राँची: पिठोरिया थाना अंतर्गत पारसनाथ बेदिया का बुधवार शाम मूर्ति विसर्जन के दौरान मौत हो जाती है। जिसके बाद परिजन और ग्रामीण आज गांव के ही एक युवक पर हवाई फायरिंग का आरोप लगाते हुए आरोपी को फांसी की सजा की मांग कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार सरस्वती पूजा के मूर्ति विसर्जन को लेकर पिठोरिया थाना से लगभग 100 मीटर की दूरी पर मूर्ति विसर्जन के लिए जुलूस निकला था, उसी दौरान गांव के ही एक युवक ने जुलूस में नाचते हुए हवाई फायरिंग की। इस दौरान मृतक पारसनाथ बेदिया भी जुलूस में शामिल था, अचानक ही जुलूस के भीड़ में वह गिर जाता है और उसके सर से खून बहने लगता है। आनन-फानन में परिजन उसे अस्पताल ले जाते हैं जहां डॉक्टर पारसनाथ को मृत घोषित कर देता है। हालांकि पुलिस कह रही है कि पारसनाथ बेदीया का गोली लगने से ही मौत हुई है ये संदेहास्पद है क्योकि मृतक के शरीर मे गोली लगने की पुष्टि अभी नही हो पाई है। पूरे मामले की जांच किया जा रहा है साथ ही जिस युवक ने जुलूस में फायरिंग किया था उसे भी तलाश कर रहे हैं। इधर घटना के बाद गुरुवार सुबह 2 घण्टे तक परिजन और स्थानीय ग्रामीणों ने रांची- पतरातू मुख्य मार्ग पिठोरिया चौक के समीप रोड जाम कर गांव के ही एक युवक पर आरोप लगाते हुए फाँसी की मांग कर रहे थे। बाद में कांके प्रखंड विकास पदाधिकारी शीलवंत भट्ट और पिठोरिया पुलिस के आश्वासन के बाद जाम हटा दिया गया। मृतक पारसनाथ बेदीया की बेटी के अनुसार उनके पिता जुलूस में शामिल थे उसी दौरान गांव के ही एक युवक अवैध हथियार निकाल कर फायरिंग करने लगा, जिससे उनके पापा को गोली लग गई और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। पिठोरिया पुलिस अपराधी को बचाने की कोशिश कर रही है जबकि घटना के दौरान हम सभी ग्रामीण चश्मदीद गवाह थे। वही पिथोरिया थाना प्रभारी मिसिल सोरेन ने बताया कि मामले में एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है साथ ही एक हथियार भी बरामद हुआ है पुलिस पूरे मामले की जांच कर रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © News Tel All rights reserved | Developed By Twister IT Solution | Newsphere by AF themes.